भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची | List Of Prime Minister Of India In Hindi

विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची (List Of Prime Minister Of India In Hindi) एक बहुत ही महत्वपूर्ण है। भारत के प्रधानमंत्री एवं उनसे संबंधित अनेक प्रकार के प्रश्न विभिन्न प्रतियोगिता परक्षाओं में अक्सर पूछे जाते हैं।

भारत के प्रधानमंत्री मंत्रिरिषद का प्रधान होता है जो वरीयता क्रम में चौथा (4th) उच्च संवैधानिक पद है। स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद से अब तक कूल  17 बार लोक सभा चुनाव हुए हैं 1947 से 2021 के बीच कूल 14 व्यक्तियों ने इस पद को तक सुशोभित किया है। 

स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद पंडित जवहरलाल नेहरू भारत के प्रथम प्रधानमंत्री हुए जोर लगाता है तीन कार्यकाल तक भारत के प्रधानमंत्री बने रहे।

श्री नरेन्द्र मोदी भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री हैं जो वर्ष 2014 में भारत के चौदहवें (14th) प्रधानमंत्री के रूप में चुने गए। श्री नरेंद्र मोदी 2019 में दूसरे कार्यकाल के लिए भारत के प्रधानमंत्री चुने गए हैं।

भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची | List Of Prime Minister Of India In Hindi
Prime Minister Of India In Hindi

अब तक बने भारत के सभी प्रधानमंत्रियों की सूची और कार्यकाल (Total List Of Prime Minister Of India In Hindi And Their Tenure)

स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद से अब तक बने भारत के सभी प्रधानमंत्रियों की सूची नीचे क्रमवार दी गई है जिसमें प्रधानमंत्रियों के कार्यकाल एवं संबंधित मुख्य बिंदुओं को दिया गया है, जो आपके परीक्षा की दृष्टि से काफी उपयोगी साबित हो सकते हैं।

क्रम.प्रधानमंत्रियों के नामकार्यकालमहत्वपूर्ण बिंदु
1.पंडित जवाहरलाल नेहरू15.08.1947 – 27.05.1964यह भारत के प्रथम प्रधानमंत्री थे इनका कार्यकाल सभी प्रधानमंत्रियों में सबसे अधिक है। इन्होंने 16 वर्ष 286 दिन प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला।

2.

लाल बहादुर शास्त्री 

09.06.1964 – 11.01.1966
11 जनवरी 1966 को ताशकंद में कार्यकाल के दौरान ही मृत्यु हो गई।
3.इंदिरा गांधी24.01.1966 – 24.03.1977प्रथम महिला प्रधानमंत्री थी जिन्होंने दो अलग-अलग कार्यकाल में प्रधानमंत्री पद पर रहीं।
4.मोरारजी देसाई24.03.1977 – 28.07.1979यहां भारत के प्रथम गैर कांग्रेसी एवं सबसे अधिक उम्र के प्रधानमंत्री हुए जिन्होंने अपने कार्यकाल में इस्तीफा दे दिया।
5.चौधरी चरण सिंह28.07.1979 – 14.01.1980प्रथम प्रधानमंत्री थे जिन्होंने अपने कार्यकाल में कभी लोकसभा में नहीं गए।

6.

इंदिरा गांधी
14.01.1980 – 31.10.19841984 में दूसरे  कार्यकाल के दौरान में हत्या कर दी गई।

7.

राजीव गांधी
31.10.1984 – 02.12.1989तमिलनाडु में एक बम ब्लास्ट में इनकी मृत्यु हो गई।
8.विश्वनाथ प्रताप सिंह02.12.1989 – 10.11.1990वी पी सिंह भारत के पहले  प्रधानमंत्री थें, जिन्हें अविश्वास प्रस्ताव द्वारा हटाया गया।
9.चंद्रशेखर10.11.1990 – 21.06.1991
10.पीवी नरसिम्हा राव21.06.1991 – 16.05.1996पद ग्रहण के समय संसद के सदस्य नहीं थे।
11.अटल बिहारी बाजपेई16.05.1996 – 01.06.1996पहले प्रधानमंत्री थे जो मात्र 13 दिन के लिए पद ग्रहण की।
12.एच डी देवगौड़ा01.06.1996 – 21.04.1997
13.इंद्र कुमार गुजराल21.04.1997 – 19.03.1998
14.अटल बिहारी बाजपेई19.03.1998 – 13.10.1999
15.अटल बिहारी बाजपेई1310.1999 – 22.05.2004
16.डॉ मनमोहन सिंह22.05.2004 – 26.05.2014
17.नरेंद्र मोदी26.05.2014 – वर्तमान

भारत के प्रधानमंत्री से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य

  • प्रधानमंत्री संसद द्वारा चुना गया नेता होता है जो राष्ट्रपति तथा मंत्री परिषद के बीच संचार का प्रमुख कड़ी होता है। 
  • संविधान में वर्णित अनुच्छेद 74 के तहत राष्ट्रपति को उसके कार्यों के संपादन और सलाह देने के लिए एक मंत्री परिषद होता है जिसका प्रधान प्रधानमंत्री होता है।
  • प्रधानमंत्री लोकसभा में बहुमतप्राप्तदल का सर्वसम्मति से चुना गया नेता होता है। 
  • वह व्यक्ति भी प्रधानमंत्री हो सकता है जो जो संसद का विश्वास मत हासिल कर ले।
  • अनुच्छेद 75 के अनुसार प्रधानमंत्री की नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा किया जाता है तथा प्रधानमंत्री को गोपनीयता का शपथ राष्ट्रपति के समक्ष ही लेता है। 

भारत के सभी नए एवं परिवर्तित राज्य, केंद्रशासित प्रदेशों एवं राजधानियों को भी जाने।

भारतीय संसदीय प्रणाली में प्रधान मंत्री की भूमिका

भारत की संसदीय प्रणाली में, प्रधान मंत्री सबसे शक्तिशाली पदाधिकारी के रूप में एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है जो संसद और कार्यपालिका दोनों को नियंत्रित करता है। प्रधानमंत्री के कुछ महत्वपूर्ण भूमिकाएं निम्न प्रकार से है:

  1. प्रधान मंत्री को संरक्षण की एक बड़ी शक्ति प्राप्त है। राष्ट्रपति द्वारा सभी मंत्रियों को प्रधानमंत्री की सिफारिश पर नियुक्त और बर्खास्त किया जाता है।
  1. प्रधानमंत्री, मंत्रियों के बीच काम का आवंटन करता है और साथ ही, वह अपनी मर्जी से अपने पोर्टफोलियो में बदलाव कर सकता है।
  1. प्रधानमंत्री राष्ट्रीय विकास परिषद, नीति आयोग, राष्ट्रीय एकता परिषद, अंतर्राजीय परिषद तथा राष्ट्रीय जल संसाधन परिषद का अध्यक्ष होता है।
  1. प्रधानमंत्री राष्ट्रपति को संसद का सत्र आहूत करने तथा सत्रवासन करने संबंधी परामर्श देता है, वह किसी भी समय लोकसभा को विघटित करने की सिफारिश राष्ट्रपति से कर सकता है।
  1. सरकार की नीतियों की घोषणा प्रधानमंत्री द्वारा ही सभा पटल पर किया जाता है।

भारत के राज्य राजधानियों को मानचित्र पर जाने।

भारत के प्रधानमंत्री के वेतन एवं भत्ते

भारतीय संविधान में भारत के प्रधानमंत्री के वेतन का कोई अलग प्रावधान नहीं है।  भारत के प्रधानमंत्री संसद के सदस्यों के रूप मेंही अपनावेतन प्राप्त करते है, लेकिन उन्हें कुछ अतिरिक्त भत्ते एवं सुविधाएं उपलब्ध हैं जो संसद के अन्य सदस्यों से अलग है। वर्तमान में भारत के प्रधानमंत्री को दो लाख अस्सी हजार रुपए (28,0000) वेतन एवं भत्ते के रूप में प्राप्त करते है।

भारत के प्रधानमंत्री से संबंधित FAQ

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री कौन थें?

1947 में स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद पंडित जवाहरलाल नेहरू भारत के प्रथम प्रधानमंत्री बने जिनका कार्यकाल 1947 – 1964 ई. तक रहा।

सबसे अधिक उम्र के प्रधानमंत्री कौन थें?

मनमोहन सिंह जो भारत के 13 वें प्रधानमंत्री के रूप में सन 2004 में 54 वर्ष के अवस्था में सपथ लिए। 

सबसे कम दिन के लिए भारत के प्रधानमंत्री कौन हुए?

अटल बिहारी बाजपेई 16.05.1996 – 01.06.1996 तक मात्र 13 दिन के लिए प्रधानमंत्री हुए।

भारत के किस प्रधानमंत्री का कार्यकाल सबसे लंबा समय तक रहा?

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू का कार्यकाल (15.08.1947 – 27.05.1964) सबसे लंबा रहा जो कुल 16 साल 9 महीने और 13 दिन तक अपने पद पर रहें।

प्रधानमंत्री की नियुक्ति कौन करता है?

भारतीय संविधान के अनुच्छेद 75 के अनुसार प्रधानमंत्री की नियुक्ति राष्ट्रपति करता है।

Spread the love

Leave a Comment